सोमवार, 1 अगस्त 2016

जीवन के वर्तमान क्षण का आनंद ले - Enjoy the Life Present Moment


एक बार समुद्र के किनार एक मछुआरा बैठा हुआ था। वह पेड़ की छावँ में बैठ कर बीड़ी पी  रहा था। रास्ते से गुजरते हुए एक धनी व्यवसायी ने उससे पूछा की तुम पेड़  ने नीचे बैठ कर बीड़ी क्यों पी  रहे हो कुछ करते क्यों नहीं। यह सुनकर मछुआरे ने जबाब दिया आज के लिए उसने ज्यादा मछलियां पकड़ ली हैं।
यह सुनकर वह धनि व्यक्ति क्रोधित हो गया और कहा। तुम पेड़  के नीचे बैठ कर अपने समय बर्बाद करने के बजाय और मछलिया क्यों नहीं पकड़ते।

मछुआरे ने पूछा : ज्यादा मछलियां पकड़  कर मैं क्या करूँगा ?
व्यपारी : तुम ज्यादा मछलियां पकड़ोगे तो उन्हें बेचकर ज्यादा पैसे कमाओगे, और  एक बड़ी नाव खरीद लोगे।
मछुआरा : तब मैं  क्या करूँगा ?
व्यपारी: तुम और भी अधिक मछलियों को पकड़ने के लिए गहरे पानी में जा सकते हो साथ ही और भी अधिक पैसा कमा सकते हो।
मछुआरा : तब मैं  क्या करूँगा ?
व्यपारी: तुम बहुत सारे नाव खरीद सकते हो और अपने यहाँ बहुत लोगों को काम पर रख सकते हो और ज्यादा पैसे कमा  सकते हो।
मछुआरा : तब मैं  क्या करूँगा ?
व्यपारी: तुम मेरे जैसे एक अमीर व्यापारी बन सकता है।
मछुआरा : तब मैं  क्या करूँगा ?
व्यपारी: तब तुम अपने जीवन शांति से सुखपूर्वक जी सकते हो।
मछुआरा : तो क्या मैं अभी सुखपूर्वक नहीं जी रहा हूँ ?

नैतिक शिक्षा : आपको खुस रहने के लिए और जीवन का आनंद लेने के लिए कल का इन्तजार नहीं करना चाहिए। जीवन में खुश रहने के लिए आपका ज्यादा धनिक होना ज्यादा ताकतवर होना कोई जरुरी नहीं है। जीवन के इसी वर्तमान  क्षण में खुश रहना सीखें।
loading...